सूचना का अधिकार अब बेहद जरुरी है यार, खुद सीखें, फिर सिखाएं

हैल्लो, दोस्तों Gazzabbro के आर.टी.आई. सीरिज में एक बार फिर से आप लोगों का स्वागत है दोस्तों आज मैं एक ख़ास पॉइंट के बारे में बात करने वाला हूँ मैं आपसे हमेशा यही कहता हूँ की आप भी सूचना के अधिकार के प्रति जागरूक हों और अपने आसपास के लोगों को भी इसके प्रति जागरूक कराएं तो इसी मैटर पर हम आज बात करने वाले हैं की आप/हम सूचना के अधिकार को बढ़ावा देने के लिए क्या कर सकते हैं.

तो मैं यहाँ आपसे कहना चाहूँगा की आप अगर चाहे तो बहुत कुछ कर सकते हैं लेकिन यह केवल आप पर Depend करता है की आप क्या चाहते हैं. सूचना का अधिकार अधिनियम सूचनाओं तक पहुँचने का एक कानूनी ढाँचा स्थापित करता है। लेकिन सुशासन के एक उपकरण के रूप में इसकी व्यावहारिक सफलता की कुंजी आपके हाथों में है।

Image result for suchna ka adhikar

आपका/मेरा यह बुनियादी दायित्व है कि इस अधिनियम का उपयोग करके अधिक से अधिक किसी सरकारी कार्य में पारदर्शिता लाई जाए आपकी मदद से सूचना का अधिकार एक शक्तिशाली और जीवंत अधिकार बन सकता है।

केवल रोते रहने से कि यह सरकार अच्छी नहीं है यहाँ भ्रष्टाचार हो रहा है कोई ध्यान नहीं दे रहा या जानबूझकर हो रहे भ्रष्टाचार की अनदेखी करना की मुझे इससे क्या करना इस सब सोंच से हम केवल शिकायतकर्ता ही बनकर रह जाते हैं हम उन लोगों में शामिल हो जाते हैं जो केवल सरकार अधिकारियो के घोटालें,गड़बड़ी की चर्चा आपस में तो करते हैं लेकिन कभी भी अपने तरफ से उस गड़बड़ी को सब लोगों के सामने बाहर लाने का प्रयास नहीं करते.

अगर किसी सरकार को जवाबदेह बनाना है तो आपको अधिक से अधिक संख्या में इस RTI कानून का उपयोग करके सूचना मांगना होगा केवल आप ही नहीं अपने आसपास के लोगों को भी इस कानून के बारे में बता कर उन्हें जागरूक करके उन्हें भी RTI दाखिल करने के लिए प्रेरित करें तभी किसी गड़बड़ी, भ्रष्टाचार पर रोक लगेगी

मैं आपको बार-बार अपने आर.टी.आई. पोस्ट शेयर करने के लिए इसलिए कहता हूँ ताकि और भी लोगों को इस कानून के बारे में उसका प्रयोग कैसे करना है की जानकारी मिलें आप चाहे मेरे BLOG पर FIRST TIME आ रहे हों या आप मेरे रीडर हो मैं आपसे यही बात कहना चाहता हूँ आप ज्ञान को जितना ज्यादा बढाएँगे उतना ही अच्छा होगा न की उसे आप खुद में सीमित कर लें क्योंकि दोस्तों आज पूरे देश में बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि नागरिकों का सशक्तिकरण करने वाला एक ऐसा कानून भी है जो उनके लिए अपने हित, अपने गाँव,वार्ड के लिए प्रयोग में लाना आसान है आज भले ही यह कानून को करीब 12 हो गए हों लेकिन अब भी लोगों में सूचना का अधिकार (RTI) के बारे में जागरूकता की कमी है केंद्र व राज्य सरकार की यह जिम्मेदारी होती है की वह इस कानून का प्रचार-प्रसार करें लेकिन उनके प्रयास धीमे हैं या यूँ कहें तो खुद की गड़बड़ी एक दिन न फंस जाए इसलिए वे जानबूझकर इसका प्रचार नहीं करते

अगर आपने कभी सूचना का अधिकार अधिनियम का इस्तेमाल किया है, तो भले ही आपका प्रयास सफल रहा हो या असफल इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन आप अपने दोस्तों और सहकर्मियों से बात कर अपने अनुभव को सार्वजनिक बनाएँ आप लोगों को सूचना के आवेदन लिखने और जमा करने का तरीका सिखा कर उन्हें सूचना के लिये ऐसे ही निवेदन भेजने में मदद दे सकते हैं। सूचना का अधिकार अधिनियम को इस्तेमाल करने का आपका अनुभव अन्यों के लिये प्रेरणा का स्रोत हो सकता है और इस अनुभव को दूसरों के साथ बांटना बहुत जरूरी है क्योंकि इसी तरह सूचना का अधिकार अधनियम लोगों के दिलो-दिमाग में गहरी जड़ें जमाएगा।

आपको RTI कार्यकर्त्ता बनकर गाँव देहात के लोगों को बीच इस कानून का प्रचार करें आज भी गाँवों में ऐसे लोग हैं जिन्हें लगता है की यह हमारी या गाँव की ही नियति है जो नहीं बदल सकता आप उन लोगों के बीच इस कानून का प्रचार करके उन्हें आवेदन करने का तरीका समझाकरके उस निराशावादी सोंच से छुटकारा दिला सकते हैं.

तो दोस्तों एक बार फिर मैं आप से REQUEST करना चाहूँगा PLZ अगर आपको सूचना का अधिकार कानून की यह सीरिज पसंद आ रही है तो इसे ज्यादा से ज्यादा SHARE करें फेसबुक के माध्यम से या उन लोगों के बीच जाकर लेकिन इसका प्रचार जरुर करें क्योंकि यह आज के समय में बेहद ही जरुरी हो गया है चलिए मैं आपके लिए अगले पोस्ट में कुछ नया लेकर आ आऊंगा .. GOOD DAY……..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *